ई-मेल क्या हैं – What is E-mail?

E-mail क्या होता है?




E-mail चिट्ठी भेजने का आधुनिक माध्यम है. घरों से लेकर सरकारी दफ्तरों में E-mail का उपयोग किया जाता है. कार्यालयों, अदालतों, स्कुलों, कॉलेजों आदि जगहों पर E-mail को सूचना भेजने तथा प्राप्त करने का आधिकारीक तरीका बना लिया गया है. यह कागज पर लिखी गई चिट्ठी के समान ही होता है. बस कागज के पत्र (Letter) और E-mail में इतना ही अंतर होता है. एक कागज के पत्र को कागज पर लिखा जाता है, और E-mail को हमे Computer पर लिखना पडता है.

what-is-email

E-mail भी एक साधारण पत्र की तरह ही एक पत्र होता है. आप एक साधारण पत्र की कल्पना करीए. हम साधारण पत्र लिखते समय उसमें प्राप्त करने वाले का नाम (Receiver), पता, संदेश और नीचे भेजने (Sender) वाले का नाम लिखते है. फिर उसे भेजने के लिए नदजीक के Post Office में जाकर उसे Post Box में डाल देते है. और पत्र प्राप्त करने वाले के पास कुछ दिनों में चला जाता है.

बिल्कुल इसी तरह ही E-mail में भी प्राप्त करने वाले का नाम (Receiver), पता (E-mail ID), और संदेश (Body) को लिखना पडता है. E-mail में भेजने वाले का नाम अलग से नही लिखना पडता है. इसमें भेजने वाले का नाम Automatic संदेश पाने वाले के पास चला जाता है. और इसके बाद Send पर क्लिक करना पडता है. और E-mail कुछ ही सेकण्डों में भेजने वाले के पास पहुँच जाता है. इसकी गती साधारण पत्र से E-mail को अलग बनाती है. इसके अलावा भी बहुत ऐसे कारण है, जो एक E-mail को एक साधारण पत्र से उपयोगी बनाती है.



आप Internet के द्वारा मिनटों में अपने संदेश को भेज तथा Receive कर सकते है. यह सुविधा अधिकतर E-mail Service Providers द्वारा मुफ्त दी जाती है. आपको सिर्फ इंटरनेट और एक इंटरनेट चलाने वाले Device, जैसे, Computer, Mobile Phone, Laptop आदि कि आवश्यकत पडती है.

दुनियाभर में लोग एक-दुसरे को Mails Send तथा Receive करते है. आप अपने दोस्त, परिवारजन, सहकर्मी, बॉस आदि को E-mail Send कर सकते है. इसके लिए बस आपको एक E-mail ID, Internet और एक E-mail Program की जरूरत होती है. जिस व्यक्ति के पास E-mail ID है, उसे कोई भी व्यक्ति जिसके पास भी E-mail ID है, Mails Send तथा Receive कर सकता है.

अब, आपके मन में भी यही प्रशन चल रहा होगा कि आखिर यह E-mail ID होती क्या है? इसकी जरूरत Mail भेजने के लिए क्यों होती है? दोस्तों, आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नही है. क्योंकि थोडी ही देर में आप E-mail ID से परिचित हो जाएंगे. और जान पाएंगे कि एक E-mail ID क्या होती है? इसकी जरूरत क्यों पडती है?

तो क्या आप तैयार है? यह जानने के लिए कि एक E-mail ID क्या होती है? इसे क्यों बनाया जाता है? आपने कहा हाँ! फिर देर किस बात की है. चलिए जानते है कि एक E-mail ID क्या होती है?

E-mail ID/E-mail Account क्या होता है?




हम एक-दूसरे को भौतिक रूप से उसके नाम और उसके रहने का स्थान यानि पता से जानते है. हमे जब किसी व्यक्ति विशेष से कोई काम पडता है. तो हम उस व्यक्ति विशेष से उसके रहने के स्थान पर संपर्क करते है. ठीक इसी तरह से E-mail भेजने तथा प्राप्त करने के लिए भी एक Address की जरूरत होती है. जिस पर Mails आएं और यहाँ से चले जाएं. इस Address को नेटलोक में E-mail ID कहते है. और एक E-mail ID बनाने के लिए एक E-mail A/c बनाना पडता है.

E-mail A/c हम किसी E-mail Program के माध्यम से Free में बना सकते है. Gmail, Outlook, Yahoo Mail, Hotmail, Reddifmail आदि बेहतरीन E-mail Programs है. आप इनमें से किसी एक या अधिक के द्वारा अपने लिए E-mail A/c बना सकते है.

जब आपका E-mail A/c बन जाता है, तो E-mail Program आपको एक E-mail ID देते हैं. जैसे, tutorialpandit@gmail.com एक Mail ID है. इस ID को Google के Mail Program Gmail के द्वारा बनाया गया है.

email-id-picture

एक E-mail ID में मुख्य रूप से दो भाग होते है. इनसे मिलकर एक E-mail ID बनती है. इन्हे आप ऊपर देख सकते है. पहला भाग Username होता है. और दूसरा भाग Domain Name कहलाता है. इनके बारे में अधिक जानकारी नीचे दी गई है.

Username

Username, E-mail ID का @ से पहले वाला भाग होता है. इसका इस्तेमाल E-mail Account में Log in करने के लिए किया जाता है. तथा यह उस व्यक्ति की पहचान होती है. जिसे E-mail भेजते है और प्राप्त करते है. इसे हम अपनी सहुलियत के अनुसार चुनते है. हमारे उदाहरण में tutorialpandit Username है.

Domain Name

E-mail Address में @ के बाद वाला भाग Domain Name होता है. यह उस Server/Computer का नाम होता है, जहाँ से Internet के द्वारा हमारी सुचनाओं का आदान-प्रदान होता है. ऊपर दिखाए गए E-mail Address में gmail.com एक Domain Name है. जिसमें एक Top Level Domain भी जुडा हुआ है. यहाँ .com एक Top Level Domain है. हमारे बताए गए E-mail Address में gmail Service Provider है. और .com Service Provider के प्रकार को दर्शाता है. जैसे, यहाँ gmail एक Commercial सेवा प्रदाता है.

@ का चिन्ह

इसे AT बोला जाता है. इसे E-mail Address में Username और Domain Name को अलग करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह E-mail ID का उपयोगी हिस्सा होता है.

इस Tutorial में आपने जाना कि एक E-mail क्या होता है. हमने आपको E-mail के बारे में विस्तार से बताया है. आप E-mail के अन्य तत्व जैसे, E-mail Account, E-mail Address, Username, Domain Name आदि से भी परिचित हुए. इसके अलावा आपको एक साधारण पत्र और एक E-mail में अंतर के बारे में भी पता चला. इसे पढने के बाद आप E-mail से अच्छी तरह से परिचित हो गए है. हमे उम्मीद है कि यह Tutorial आपके लिए उपयोगी साबित होगा.



चलो इस Tutorial/Lesson के बारे में बात करें.