Categories
MS Office MS PowerPoint

PowerPoint क्या है और कैसे सीखें हिंदी में जानकारी

MS PowerPoint, जिसका पूरा नाम ‘Microsoft PowerPoint‘ है तथा इसे ‘PowerPoint‘ के नाम से भी जानते है, एक Presentation Program है, जो सूचनाओं को Slides format में कुछ मल्टीमीडिया विशेषताओं जैसे- फोटो एवं आवाज के साथ Open, Create, Edit, Formatting, Present, Share एवं Print आदि करने का कार्य करता है.

MS PowerPoint को Microsoft द्वारा विकसित किया गया है, MS PowerPoint Microsoft Office का एक भाग है. नीचे MS PowerPoint 2007 की विंडो को दिखाया गया है.

PowerPoint Dashboard with Tools Name
PowerPoint Dashboard with Tool Name

आप भी अपने कम्प्युटर मे MS PowerPoint को open कर इसे देख सकते है. यदि आपको इसे ओपन करना नही आता है तो आप ‘MS PowerPoint को कैसे Open करें‘ ट्युटोरियल से इसे ओपन करना सीख सकते है. इस Tutorial मे MS PowerPoint को Open करने के कई तरीके बताए गए है.

MS PowerPoint की विंडो को कई भागों में बाँटा गया है. जिन्हे ऊपर चित्र में एक रेखा के माध्यम से नाम सहित दिखाया गया है. आइए MS PowerPoint की विंडो के प्रत्येक भाग को क्रम से जानते है.


1. Office Button

Office Button MS PowerPoint का एक प्रमुख भाग है. यह बटन Menu Bar में होता है. इस बटन में MS PowerPoint में बनने वाली फाइल या स्लाइड के लिए कई विकल्प होते है.

इसे भी पढेंOffice Button की पूरी जानकारी

2. Quick Access Toolbar

Quick Access Toolbar MS PowerPoint का एक विशेष भाग है. यह टूलबार Title Bar में होता है. इसे हम शॉर्टकट की तरह उपयोग मे लेते है. इस टूलबार में अधिकतर काम आने वाली Commands को add कर दिया जाता है और वे इसमे जुड जाती है. Quick Access Toolbar की सहायता से MS PowerPoint में कार्य थोडी Speed से हो पाता है.

इसे भी पढें: Quick Access Toolbar की पूरी जानकारी

3. Title Bar

Title bar MS PowerPoint विंडो का सबसे ऊपरी भाग है. इस बार पर MS PowerPoint मे बनाई गई फाइल के नाम को दिखाया जाता है. जब तक फाईल को रक्षित (save) नही किया जाएगा फाइल का नाम नही दिखाया जाता है और वहां “Presentation1” लिखा होता है.

जैसे ही हम फाइल को किसी नाम से रक्षित (save) करते है तब “Presentation1” के स्थान पर फाइल नाम दिखाया जाता है.

Title bar के दांये कोने में तीन बटन होते है. इन तीन बटन में पहला बटन “Minimize” होता है जिस पर क्लिक करने से Open Program Task Bar में आ जाता है. दूसरा बटन “Maximize or Restore down” होता है. यह बटन विंडो की Width को कम या ज्यादा करने का कार्य करता है. और तीसरा बटन “Close button” है, जो प्रोग्राम को बंद करने का कार्य करता है.

4. Ribbon

Ribbon MS PowerPoint विंडो का एक और भाग है. यह Menu Bar से नीचे होता है. इस पाठ मे दिखाई गई MS PowerPoint विंडो में लाल रंग का हिस्सा ही Ribbon है. इस भाग में MS PowerPoint tabs (जो विकल्प menu bar में होते है) के विकल्पों को दिखाया जाता है.

5. Menu Bar

Menu Bar MS PowerPoint में टाइटल बार के नीचे होती है. इसे Tab Bar भी बोल सकते है क्योंकि इन्हें अब टेब ही बोला जाता है. Menu Bar में कई विकल्प होते है और प्रत्येक की अपनी Ribbon होती है.

6. Status Bar

स्टेटस बार MS PowerPoint में टेक्स्ट एरिया के बिल्कुल नीचे होती है. इस बार में “Zoom Level” नामक टूल होता है, जिसकी सहायता से PowerPoint Slides को Zoom in तथा Zoom out किया जा सकता है. इसके अलावा भी बहुत से टूल इस बार में होते है जैसे;  language, themes, Slide Number आदि.

7. Text Area

Text Area MS PowerPoint का सबसे मह्त्वपूर्ण भाग है. और यह MS PowerPoint विंडो का सबसे बडा तथा मध्य भाग होता है. MS PowerPoint में इसे Slides कहते है. इसी क्षेत्र मे Presentation Text को लिखा जाता है.


MS PowerPoint की विशेषताएं – Characteristics of PowerPoint in Hindi

#1 उपयोग में आसान

एम एस पावरपॉइंट टूल को आप अन्य ऑफिस टूल जैसे एम एस वर्ड तथा एम एस एक्सेल की भांति ही उपयोग में लें सकते है. बल्कि, यह इन दोनों टूल्स से ज्यादा सरल है.

आप कुछ ही घंटों की प्रक्टिस करने के बाद MS PowerPoint Basics सीख जाते हैं और धीरे-धीरे अभ्यास करने पर PowerPoint Advance Tutorials की मदद से एनिमेशन, ट्रांजिशन तथा स्पेशल इफेक्ट्स के जरिए अपनी प्रेजेंटेशन को विशेष तथा दमदार बनाना सीख सकते है.

साथ में आप साउंड जोडना, वीडियो क्लिप्स जोड़ना तथा एंटी एवं एग्जिट जैसे फीचर्स भी इस्तेमाल करना सीख जाते है.

#2 Office Suite का भाग

पावरपॉइंट एम एस ऑफिस सूइट का एक प्रमुख भाग है. जिसमें एम एस वर्ड, एक्सेल तथा वननोट के बाद पावरपॉइंट भी शामिल है. यह माइक्रोसॉफ्ट का सबसे बेसिक प्लान है. आप अन्य टूल्स का उपयोग करने के लिए दूसरा प्लान भी खरिद सकते है.

#3 भरोसेमंद और विश्वसनीय

पावरपॉइंट के साथ कम्प्यूटर की दुनिया का सरताज माइक्रोसॉफ्ट का हाथ है. इसलिए, भरोसा और विश्वास अपने आप साथ आता है.

आपको दुनिया भर में मौजूद सभी प्रेजेंटेशन टूल्स की खासियते इस प्रीमियम टूल में मिल जाएंगी. और कुछ समझ ना आए या फिर गड़बड़ लग रही है तो माइक्रोसॉफ्ट सपोर्ट 24 घंटे आपकी मदद के लिए तैयार होता है.

इसलिए, आप इस प्रेजेंटेशन टूल पर आंख मूंदकर भरोसा कर सकते है और अपने स्कूल तथा ऑफिस प्रेजेंटेशन तैयार करके अपनी प्रेजेंटेशन स्किल्स से दिल जीत सकते है.

#4 एनिमेशन टूल्स

एम एस पावरपॉइंट में बिल्ट-इन एनिमेशन टूल आता है. जिसकी सहायता से आप एलिमेंट्स पर विभिन्न एनिमेशन इफेक्ट्स लगाकर उन्हे मजेदार बना सकते है. जिन्हे देखते ही दर्शकों के मूंह से वाह! निकल आए.

यहां पर आपको Entry Animations, Exit Animations श्रेणी में एनिमेशन इफेक्ट्स मिल जाते है. यानि किसी एलिमेंट्स की एंट्री पर अगल एनिमेशन और एग्जिट पर अलग एनिमेशन लगाया जा सकता है.

#5 वीडियो बनाने की सुविधा

एम एस पावरपॉइंट के शुरुआती वर्जनों में वीडियो एक्सपोर्ट की सुविधा नही थी. लेकिन, बाद के वर्जनों में वीडियो सुविधा जोड़ दी गई है. जिसका फायदा यह हुआ है कि आप अपनी स्लाइड को एक वीडियो में बदल सकते है और उसे वीडियो के रूप में डाउनलोड करके विभिन्न वीडियो प्लैटफॉर्म्स जैसे यूट्यूब, टिकटॉक, फेसबुक वीडियो आदि पर शेयर कर सकते है.

#6 जॉब के लिए तैयार

पावरपॉइंट सीखने के बाद आप इसका उपयोग ना सिर्फ प्रेजेंटेशन बनाने के लिए करते है. यह टूल आपको जॉब भी दिला सकता है. आप जानते है कि यह टूल ऑफिस का एक भाग होता है. इसलिए, एम एस ऑफिस पेशेवरों की मांग बाजार में हमेशा बनी रहती है.

इसलिए, इसे टूल को हल्के में ना लें. बल्कि इसे पूरी लगन और मेहनत से सीखें ताकि जब आपको जॉब मिलें तो आप किसी का मूँह ताकते ना रहें.

पावरपॉइंट का उपयोग कहां होता है?

पावरपॉइंट टूल की गिनती प्रोडक्टिविटी, ऑफिस टूल तथा ग्राफिक्स टूल्स में होती है. इसलिए, पावरपॉइंट का उपयोग ऑफिस वर्क के साथ-साथ सरल एनिमेशन बनाने के लिए भी किया जाता है.

आप स्लाइट्स एडिट करने, जोडने, हटाने, पिक्चर जोड़ने, एनिमेशन जोड़ना-हटाना, ट्रांजिशन आदि के लिए पावरपॉइंट का इस्तेमाल कर सकते है. और प्रेजेंटेशन के अलावा वीडियो बनाने, हैण्डआउट्स तैयार करने, प्रेजेंटेशन नोट्स बनाने, वक्ता नोट्स बनाने जैसे प्रमुख कामों के लिए खूब किया जाता है.

ऑफिसों में अपनी परफॉर्मेंस दिखाने, फैक्ट्रीयों में नए टूल्स की जानकारी देने के लिए तथा उसकी असेम्बली प्रक्रिया समझाने के लिए भी पावरपॉइंट का इस्तेमाल होता है.

पावरपॉइंट कैसे सीखे – How to Learn PowerPoint in Hindi?

#1 कम्प्यूटर कोर्स करें

पावरपॉइंट सीखने का सबसे आसान और परंपरागत तरीका है किसी कम्प्यूटर इंस्टिट्यूट में जाकर बेसिक कम्प्यूटर कोर्स में एडमिशन लेकर कम्प्यूटर सीखना.

यहां पर आ कम्प्यूटर फंडामेंट्ल्स से लेकर एम एस ऑफिस भी सीख सकते है. इसके अलावा आप एडवांस कम्प्यूटर कोर्से जैसे ADC, PGDCA, BCA जैसे कोर्स भी कर सकते है.

यह कोर्स लंबे अवधि के होते है. लेकिन, आपको पूरा ज्ञान मिल जाता है और अन्य कम्प्यूटर स्किल्स भी सीखने का मौका मिलता है.

अन्य कम्प्यूटर कोर्सेस की जानकारी के लिए आप हमारी Best Computer Courses वाली पोस्ट पढ़ सकते है. जिसका लिंक नीचे दिया गया है.

इसे पढ़े – Best Computer Courser for Students – जो दिलाएंगे हाथोहाथ जॉब

#2 कम्प्यूटर किताबें खरिदें

अगर आप कोर्स नही करना चाहते है तो कम्प्यूटर किताबें आपके लिए उपयोगी साबित हो सकती है.

आज बाजार में सैंकड़ों कम्प्यूटर बुक्स उपलब्ध है. जिनके जरिए आप घर बैठे-बैठे एम एस पावरपॉइंट की ट्रैनिंग लें सकते है. इन किताबों को आप ऑनलाइन भी मंगवा सकते है.

टिप्स:- किताब ढूँढ़ने के लिए गूगल पर जाएं और, “best computer books in hindi,” या फिर “best ms office books in hindi” टाइप करके सर्च कीजिए. आपके लिए बेस्ट किताबें आ जाएगी. फिर आप इन किताबों को अमेजन से ऑर्डर देकर मंगवा लें.

#3 ऑनलाइन सीखें

इंटरनेट आने के बाद ज्ञान हथेली में समा गया है. आपको बस टाइप करना है या फिर बोलन है और आपके सामने दुनियाभर में मौजूद नॉलेज आ जाएगी.

यही चीज आप पावरपॉइंट सीखने के लिए भी अप्लाई कर सकते है और इंटरनेट पर मौजूद फ्री वेब ट्युटोरियल्स के जरिए ऑनलाइन पावरपॉइंट सीख सकते है.

नीचे आपके लिए कुछ वेबसाइट्स के नाम दिए गए है जिनके माध्यम से आप पावरपॉइंट सीख पाएंगे.

#4 ऑनलाइन कम्प्यूटर कोर्स करे

इस डिजिटल युग में पढ़ाई भी डिजिटल हो रही है. यानि ई-लर्निंग का दौर शुरु हो चुका है. आपको बस एक सर्च करने की देर है सैंकड़ों ऑनलाइन कोर्स आपको पावरपॉइंट सिखाने आ जाएंगे.

इन कोर्सेस से आप घर बैठे-बैठे आसानी से सस्ते दामों में पावरपॉइंट की ट्रैनिंग लें पाएंगे. आपको दिक्कत आने पर गाइडेंस भी दी जाती है और सपोर्ट भी प्रदान किया जाता है.

ऐसे बहुस सारे ऑनलाइन एजुकेशन पोर्टल है जहां पर पावरपॉइंट कोर्सेस करवाएं जाते है. नीचे कुछ लोकप्रिय पोर्टल्स के नाम दिए जा रहे है.

#5 पावरपॉइंट मदद का इस्तेमाल करें

अन्य सॉफ़्टवेयर की तरह पावरपॉइंट का भी हेल्प सेंटर होता है. जिसकी मदद से आप पावरपॉइंट की हर समस्या का निदान ढूँढ़ सकते है. यह सहायता फ्री होती है. जिसे आप कीबोर्ड से F1 फंक्शन की दबाकर एक्टिव कर सकते है.

यहां पर पावरपॉइंट से संबंधित बेसिक से लेकर एडवांस ट्युटोरियल्स सरल और समझने योग्य तरीके में उपलब्ध होते है. आप इनके जरिए भी पावरपॉइंट सीख सकते है.

आपने क्या सीखा?

इस Lesson में आपने जाना कि Microsoft PowerPoint क्या होता है. हमने इस Lesson में PowerPoint के बारे में सरल शब्दों में बताया है. हमे उम्मीद है कि यह Lesson आपके लिए उपयोगी साबित होगा.


— कुछ संबंधित ट्युटोरियल —

लेख आपको पसंद आया?
👍👎

By TP Staff

लेखक: TP Staff

TP Staff, TutorialPandit की कम्प्यूटर और टेक्नोलॉजी पेशेवरों की टीम है, जिसका नेतृत्व जी पी गौतम द्वारा किया जाता है. TutorialPandit के माध्यम से भारत देश में हर साल लाखों लोग फ्री डिजिटल शिक्षा ग्रहण कर रहे है.

38 replies on “PowerPoint क्या है और कैसे सीखें हिंदी में जानकारी”

शुक्रिया “TutorialPandit” आप ने Microsoft Power Point के बारे में बड़े ही व्याख्यात रूप से लिखा है। या लेख मेरे लिए यकीनन ज्ञानवर्धक प्रतीत हुई, एवं मैं आपका धन्यवाद करना चाहता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *