Categories
HTML Programming

HTML Tags in Hindi की पूरी जानकारी

HTML Document को HTML Tags द्वारा ही Define किया जाता है. एक HTML File का निर्माण HTML Tags से ही होता है.

अब आप यही सोच रहे होंगे कि ये HTML Tag क्या होता है – What is an HTML Tag? HTML Tags कितने प्रकार के होते है – Types of HTML Tags? HTML Tags को एक HTML Document में किस प्रकार लिखा जाता है – How to Define an HTML Tag?

इस Lesson में हम आपको HTML Tags के बारे में पूरी जानकारी देंगे. HTML Tags को आसानी से समझने के लिए हमने इस Lesson को तीन भागों में बाँटा है.

HTML Tags का परिचय – Introduction to HTML Tags

HTML Tag एक साधारण शब्द या अक्षर होता है. जो Angular Brackets (< >) से घिरा रहता है. इस प्रकार एक साधारण शब्द/अक्षर और Angular Brackets से एक HTML Tag का निर्माण होता है. नीचे कुछ उदाहरण दिए गए है. आप इन्हे पढकर आसानी से HTML Tag को समझ जाऐंगे.

Example 1

Form एक साधारण शब्द है. HTML Document में Form बनाने के लिए Form Tag का उपयोग किया जाता है. HTML Language में Form Tag बनाने के लिए Form शब्द को Less Than और Greater Than के बीच लिखने से HTML Form Tag का निर्माण होता है. जिसे इस प्रकार लिखा जाएगा.

<form>…</form>

Example 2

HTML Document में Paragraph लिखने के लिए Paragraph Tag को बनाया गया है. जिसमें Paragraph शब्द का केवल P इस्तेमाल किया गया है. जिससे Paragraph Tag का निर्माण होता है. यहाँ P अक्षर को Less Than और Greater Than के बीच लिखा गया है. Paragraph Tag को इस प्रकार लिखा जाता है.

<p> Text </p>

Example 3

Text को Bold यानि गहरा करने के लिए Bold Tag का इस्तेमाल किया जाता है. Bold Tag बनाने के लिए Bold शब्द का मात्र B को Use किया जाता है. यहाँ B अक्षर को Less Than और Greater Than के बीच लिखा गया है. इसे इस प्रकार लिखा जाता है.

<b> Text </b>

HTML Tag का नामकरण उनके द्वारा Define होने वाले Rules के आधार पर ही किया गया है. इसलिए Tag के नाम मात्र से ही उस Tag विशेष के उपयोग के बारे में भी आसानी से पता चल जाता है. कुछ दिन HTML Tags के साथ काम करने के बाद ही आप HTML Tags से Familiar हो जाते है.

HTML Tag को जिस Text पर Apply किया जाता है. वह Text उसी Tag के नाम से Mark हो जाता है. अर्थात <p> … </p> के बीच लिखा गया Text को Browser Paragraph के रूप में पहचानता है. इसलिए ही HTML को MarkUp Language कहा जाता है.

इसे भी पढे: HTML Language क्या है? पूरी जानकारी.

HTML Tag का कार्य Text को Define करना होता है. इसके बाद Interpreter (Browser का एक Feature) टैग द्वारा Define किये गये Rule को Read करता है. और Read करने के बाद Text को Rule के अनुसार Display करता है.

HTML Tag का Syntax – Syntax of an HTML Tag

एक HTML Tag के तीन भाग होते है:

  1. Opening Tag
  2. Text
  3. Closing Tag

Opening Tag

Opening Tag को Start Tag भी कहा जाता है. Start Tag का कार्य Browser को बताना है कि अब ये Rule Define हो रहा है. ताकि ब्राउजर उस Tag को सही तरह से Read कर सके. Opening Tag को इस प्रकार लिखा जाता है.

<Tag Name>

Text या Content

Text वह जानकारी होती है; जो Webpage में लिखनी होती है. आप जो सूचना या जानकारी अपने Users को बताना चाहते है. वह Text यहाँ लिखा जाता है. Text लिखने के बाद Syntax कुछ इस प्रकार दिखाई देता है.

<Tag Name> Text

Closing Tag

Closing Tag को End Tag भी कहते है. End Tag से ब्राउजर को Opening Tag द्वारा Define Rule की समाप्ती के बारे में बताया जाता है. ये तीन Elements मिलकर एक HTML Tag का Syntax बनाते है. इन्हे एक साथ इस प्रकार लिखा जाता है. यह एक HTML Tag का पूरा Syntax है.

<Tag Name> Text </Tag Name>

Closing Tag को Opening Tag से अलग बनाने के लिए Forward Slash (/) का उपयोग किया जाता है.

सभी HTML Tags का Syntax एक जैसा नही होता है. ऊपर बताया गया Syntax Paired Tags में Use किया जाता है. लेकिन, कुछ HTML Tags अकेले होते है. इन्हे Empty Tag कहते है. Empty Tag का Syntax इस प्रकार लिखा जाता है.

<Tag Name />

HTML Tag के प्रकार – Types of HTML Tags

HTML Language में विभिन्न प्रकार के Tags होते है. प्रत्येक Tag का उपयोग अलग-अलग Elements को Define करने के लिये किया जाता है. HTML Tags के दो प्रकार होते है:

  1. Paired HTML Tag
  2. Unpaired HTML Tag

1. Paired HTML Tags

Paired HTML Tags वे HTML Tags होते है. जिनको जोडे यानि Pair में लिखा जाता है. एक Paired Tag के दो भाग होते है. पहला Opening Part होता है. जिसे इस प्रकार लिखा जाता है.

<Tag Name>

दूसरा भाग Closing Part होता है. इस भाग को Content यानि Text के बाद लिखा जाता है. इस भाग को इस प्रकार Define किया जाता है.

</Tag Name>

HTML में अधिकतर Tag Paired Tag ही होते है. लेकिन, हर चीज की तरह इनके भी अपवाद होते है – Unpaired Tag.

2. Unpaired HTML Tag

Unpaired Tag को Singular HTML Tag भी कहा जाता है. ये Tag अकेले होते है. Singular Tag का साथी Tag नही होता है. एक Unpaired Tag में Opening Part और Closing Part को एक साथ ही लिखा जाता है. एक Singular Tag को HTML Document में इस प्रकार Define किया जाता है.

<Tag Name />

आपने क्या सीखा?

इस Lesson में हमने आपको HTML Tags के बारे में बताया है. आपने जाना कि HTML Tag क्या है? HTML Tags के विभिन्न प्रकार की जानकारी भी इस Lesson में दी गई है. इसके अलावा HTML Tags का Syntax भी Define किया गया है. हमे उम्मीद है कि यह Lesson आपके लिए उपयोगी साबित होगा.

#BeDigital

लेख आपको पसंद आया?
👍👎

By TP Staff

लेखक: TP Staff

TP Staff, TutorialPandit की कम्प्यूटर और टेक्नोलॉजी पेशेवरों की टीम है, जिसका नेतृत्व जी पी गौतम द्वारा किया जाता है. TutorialPandit के माध्यम से भारत देश में हर साल लाखों लोग फ्री डिजिटल शिक्षा ग्रहण कर रहे है.

11 replies on “HTML Tags in Hindi की पूरी जानकारी”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *