Categories
Android Articles

Google Assistant क्या है और गूगल असिसटेंट का उपयोग करने की हिंदी में जानकारी

हर कोई चाहता है कि उनका एक आज्ञाकारी सेवक हो जो एक इशारे पर उनके काम फटाफट करते जाएं. और हर ऑर्डर देते ही सारी चीजे हाजिर कर दें.

यह स्वपन में तो संभव है. लेकिन, असल जीवन में एक निजी सेवक रखना बहुत मंहगा सौदा है. इसलिए, यह चौचला सिर्फ अमिरों तक ही सीमित रह जाता है. एक आम इंसान सिर्फ सपने ही देखता रहता है.

मगर, बदलती टेकनोलॉजी और डिजिटल डिवाइसों की भरमार ने यह काम कुछ हद तक आम इंसान की पहुँच में लाने का सफल प्रयास किया है. जिसकी एक बानगी Google Assistant के रूप में देखने को मिलती है.

जैसा नाम से ही पता चलता है यह गूगल का असिसटेंट है. जो गूगल का उपयोग करने वाले हर यूजर के लिए डिजिटल पर्सनल असिसटेंट के तौर पर काम करता है.

यानि आप अपने गूगल डिवाइस को मूहं से बोलकर कमांड देकर अपने डिवाइस को संभाल सकते हैं और उससे कोई भी काम करवा सकते हैं.

अब आपके मन यह सवाल आ रहा होगा कि गूगल असिसटेंट क्या होता है और इसका उपयोग मैं कैसे कर सकता हूँ?

तो आपको निराश होने की कोई जरूरत नहीं है. हम कुछ ही देर में गूगल असिसटेंट के बारे में सारी जानकारी आपको उपलब्ध करवा रहे है.

अध्ययन की सुविधा के लिए इस लेख को निम्न भागों में बांट दिया है.

Google Assistant क्या है?

Google Assistant, गूगल का एक वर्चुएल असिसटेंट है जो सभी एंड्रॉइड स्मार्टफोन तथा अन्य स्मार्ट डिवाइसों में वॉइस कमांड के जरिए इन डिवाइसों को कंट्रोल करने की सुविधा देता है. इसे पहली बार वर्ष 2016 में लॉन्च किया गया था. “OK Google” बोलकर इसे एक्टिव किया जा सकता हैं.

इस वॉइस असिसटेंट के द्वारा आप अपने स्मार्टफोन को सिर्फ आदेश देकर कुछ भी काम करवा सकते हैं. आपको फोन छूने की भी जरूरत नहीं रहती है.

आप वाट्सएप मैसेज टाइप करवा सकते हैं, कॉल लगवा सकते हैं, कहीं जाना है तो उसका रिमाइंडर सेट करवा सकते हैं.

यह काम तो सिर्फ बानगी भर है. आप खुद इसे ट्राई करें और जानें की गूगल असिसटेंट आपके लिए क्या-क्या कर सकता हैं.

गूगल असिसटेंट से आप जो कुछ भी पूछते हैं. यह आपके सभी सवालों के जवाब दे देता हैं. क्योंकि, यह जानता हैं कि आप कहां काम करते हैं? आपकी पसंदीदा टीम कौनसी है? और आपको खाने में क्या पसंद है?

गूगल असिसटेंट टेक्स्ट तथा वॉइस दोनों को सपोर्ट करता हैं. मतलब, आप लिखकर तथा बोलकर अपना सवाल पूछ सकते हैं.

चलिए, अब इस पर्सनल सहायक की परिक्षा लेने का वक्त आ चुका है. लेकिन, इससे पहले जान लेते हैं कि गूगल असिसटेंट स्मार्टफोन में एक्टिव कैसे होता है?

स्मार्टफोन में गूगल असिसटेंट कैसे एक्टिव करें – How to Enable Google Assistant in Hindi?

  • Step: #1 – Google Search App को ओपन कीजिए
  • Step: #2 – More… पर टैप कीजिए
  • Step: #3 – Settings पर जाकर Google Assistant पर टैप करें
  • Step: #4 – Assistant टैप पर जाएं
  • Step: #5 – थोडा-सा नीचे जाकर Phone पर टैप करें
  • Step: #6 – और Google Assistant को एक्टिव कर दें साथ में Hey Google भी एक्टिव कर दें  

अगर, आपको समझने में दिक्कत आ रही है तो नीचे वीडियो को देखकर भी अपने स्मार्टफोन में गूगल असिसटेंट एक्टिव करना सीख सकते हैं.

अब आप “Ok Google” या फिर “Hey Google” बोलकर अपना कोई भी काम करवाने के लिए तैयार हो गए है.

यकीन करने के लिए बोलिए “ओके गूगल” और देखिए आपके सामने क्या आता है?

आपके सामने कुछ इस प्रकार की स्क्रीन आ सकती है. नीचे स्क्रीनशॉट देखिए.

Google Assistant Home Screen

Google Assistant क्या-क्या कर सकता है?

अब आपने गूगल असिसटेंट एक्टिव तो कर लिया. लेकिन, ये तो पता ही नही कि गूगल असिसटेंट क्या-क्या काम कर सकता है?

तो चलिए, जानते है गूगल असिसटेंट के कुछ लोकप्रिय काम जिन्हे आप इस वॉइस असिसटेंट के द्वारा पूरे करवा सकते हैं.

  • गूगल सर्च करें – आप बिना टाइप करें सिर्फ बोलकर इंटरनेट से कोई भी जानकारी सर्च कर सकते हैं. बस, आपको जो सर्च करना है उसे “ओके गूगल” से शुरु करके बोलना है. और कुछ ही सैकण्ड में आपके सामने रिजल्ट होंगे.
  • रिमाइंडर लगाएं – आपको गजनी फिल्म के आमिर खान की भांति भूलने की आदत है तो आप गूगल असिसटेंट को इस काम में लगा सकते हैं. यह आपके हर काम के लिए रिमाइंडर लगा सकता हैं.
  • अलार्म सेट करें – रिमाइंडर की भांति अलार्म भी सेट करवा सकते हैं.
  • मैसेज और कॉल करें – आप बिना नंबर डायल करें किसी को भी कॉल कर सकते हैं. बशर्ते, वह नंबर कॉन्टेक्ट में सेव होना चाहिए. इसी तरह टेक्स्ट मैसेज भी भेज सकते हैं.
  • एप्स को ओपन करें – आपके फोन में मौजूद एप्स को ओपन करके उपयोग में लें सकते हैं. जैसे वाट्सएप को ओपन करके वाट्सएप मैसेज भी भिजवा सकते हैं.
  • सर्च नियर बाई – आपके नजदीक होटल, बैंक, एटीएम, स्कूल, कॉलेज, पुलिस थाना आदि सर्च करवा सकते हैं.
  • नोटिफिकेशन पढ़वाएं – हमे दिनभर में सैंकड़ों नोटिफिकेशन मिलती है. जिनमे हमारा बहुत सारा समय खर्च हो जाता है. इसलिए, आप गूगल असिसटेंट के जरिए इन नोटिफिकेशन को पढ़वाकर अपनी कीमती समय बचा सकते हैं.
  • म्युजिक चलाएं – आप म्युजिक भी चलवा सकते हैं. बस, आपको गूगल से कहना है “ओके गूगल” इस प्लेलिस्ट को चलाओं. और गाना शुरु हो जाएगा.

ये काम तो बस शुरुआत है. आप अनगिनत कितने ही काम इस एप (सॉरी पर्सनल असिसटेंट) से करवा सकते हैं. बस, इसके साथ बतियाते रहिए और अपने साथ घुला लिजिए. ताकि जान पहचान हो जाए.

किन डिवाइसों में गूगल असिसटेंट का उपयोग किया जा सकता है?

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस सेवा को असल में Google Pixel, Google Home से शुरु किया गया था. लेकिन, आज लगभग सभी गूगल उत्पादों के साथ यह इनबिल्ट दी जाती हैं. साल, 2017 में गूगल असिसटेंट को एंड्रॉइड के लिए लॉन्च किया.

यदि आपका स्मार्टफोन एंड्रॉइड 6 या उपर है तो आप खुश हो सकते हैं. क्योंकि, आपका स्मार्टफोन गूगल असिसटेंट की सेवा देने के लिए तैयार है.

ना सिर्फ स्मार्टफोन बल्कि, एंड्रॉइड टीवी, वीयर ऑएस जैसे डिवाइस को भी यह सपोर्ट करता हैं.

साथ ही यह गूगल होम जो कि गूगल के स्मार्ट स्पीकर है. उन्हे भी सपोर्ट करता हैं एवं उन्हे कंट्रोल कर सकता हैं. यदि आपके पास एक एंड्रॉइड मोबाइल है जो गूगल असिसटेंट को सपोर्ट करता है तो आप घर के अन्य होम डिवाइसों को भी कंट्रोल कर सकते हैं.

चलिए, बताते है इस सूची में किन डिवाइसों का नाम शामिल है.

#1 Google Maps

गूगल मैप्स में भी गूगल असिसटेंट कार्य करता है. यदि आप रास्ता भूल चुके हैं तो आपको गंतव्य (Destination) तक पहुँचाने में यह आपकी मदद करेगा.

साथ ही इससे आप अपनी वर्तमान लोकेशन को अपने फ्रेंड्स और फैमिली के साथ शेयर भी कर सकते हैं.

गूगल असिसटेंट का यह फीचर वाहन चालकों के लिए भी काफी उपयोगी है. वे अपने एंड्रॉइड स्मार्टफोन में गूगल मैप को ओपन करके “google take me to home” कहते हैं तो वॉइस कमांड के आधार पर आपका वर्चुएल असिसटेंट घर का पता की ओर ले चलता हैं.

इसी तरह अन्य एप्स के साथ भी आप इस असिसटेंट का इस्तेमाल बखूबी कर सकते हैं.

#2 Android TV

एंड्रॉइड टीवी को भी गूगल असिसटेंट के जरिए कंट्रोल किया जा सकता हैं. आजकल, सोनी, सेमसंग जैसी कंपनिया एंड्रॉइड टीवी विभिन्न मॉड्यूल्स में विकसित कर रहे है.

यह एंड्रॉइड स्मार्ट टीवी गूगल असिसटेंट के अलावा अमेजन एलेक्सा, गूगल होम के साथ भी कंफर्टेबल हैं.

संक्षेप में कहा जाए तो अब आप गूगल असिसटेंट का इस्तेमाल कर अपनी आवाज से उसे कंट्रोल कर सकते हैं. आवाज बढ़ाना-घटाना, चैनल बदलना आदि.

#3 Headphone and Ear Bud

विभिन्न इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स के साथ गूगल असिसटेंट अनुकूल होने की कोशिश कर रहा है. इसलिए, अब आपको मार्केट में कई ऐसे वायरलेस हेडफोन मिलते हैं जो गूगल असिसटेंट को सपोर्ट करते हैं.

बता दें गूगल के खुद के Pixel Buds इस वर्चुएल असिसटेंट के साथ मिलकर क्वालिटी प्रदान करते हैं. और इसके साथ ही अन्य कंपनिया जैसे Harman, Sony, JBL आदि में गूगल असिसटेंट की सुविधा मिल रही हैं.

जब आपको इस तरह का इंटीग्रेशन मिलता है तो किसी भी डिवाइस को दूर रहकर कंट्रोल करना बेहद आसान हो जाता हैं.

#4 Cars

Android Auto के आधार पर अब आप गूगल असिसटेंट का इस्तेमाल अपनी कार में भी कर पाएंगे. आजकल विभिन्न कारों में गूगल असिसटेंट का सपोर्ट देखने को मिल रहा हैं.

दरअसल, गूगल इस समय कार की एसेसरीज में गूगल असिसटेंट के बेहतर सपोर्ट के लिए विभिन्न ब्रांड्स के साथ मिलकर काम कर रहा है.

मसलन, कार की एसेसरीज के तौर पर लगे जेबीएल स्पीकर को गूगल असिसटेंट के जरिए कंट्रोल किया जा सकता है. इससे आप वॉइस कमांड के आधार पर ही स्पीकर्स को कंट्रोल कर पाते हैं.

कैसे पता करें मेरा डिवाइस गूगल असिसटेंट सपोर्ट करता है?

यह जानने के लिए कि मेरा डिवाइस गूगल असिसटेंट सपोर्ट करता है या नहीं?

इसके लिए आपको मोबाइल को होम बटन कुछ सैकंड्स के लिए दबाएं रखना है और फिर “ओके गूगल” बोलना है.

यदि, गूगल असिसटेंट होगा तो वह एक्टिव हो जाएगा. और आपके ओपन होगा, नहीं तो कुछ और विकल्प आपके सामने ओपन होगा.

उपर आपको बताया है कि आप गूगल असिसटेंट कैसे एक्टिव कर सकते हैं?

इसलिए, उन स्टेप्स को दोहराएं और अपने मोबाइल में जांच लें कि आपके मोबाइल में गूगल असिसटेंट है या नही?

Google Assistant Connect क्या है?

Google Assistant Connect का नाम भी कई बार सुनने को मिलता है. इसलिए, लगे हाथ इसके बारे में भी जान लेते हैं.

वैसे, एक आम यूजर के लिए इस सर्विस से कोई लेना-देना नहीं है. लेकिन, आपकी जानकारी के लिए हम इसका परिचय दें रहे हैं.

गूगल चाहता है कि डवलपर्स गूगल असिसटेंट के साथ मिलकर उपयोगी चीजें बना सके. जिससे अधिक से अधिक डिवाइसों में गूगल असिसटेंट का उपयोग हो और इसका विस्तार हो.

साथ, 2019 में गूगल असिसटेंट कनेक्ट को लॉन्च किया गया था.

गूगल असिसटेंट कनेक्ट एक प्लैटफॉर्म है. जिसके माध्यम से मैन्यूफैक्चर कंपनियां विभिन्न डिवाइसों में गूगल असिसटेंट का सरलता पूर्वक एवं कम लागत में इस्तेमाल कर सकें.

यह एक किफायति प्लैटफॉर्म है जो आमतौर पर चिपसेट के फॉर्म में आता है जिसे डवलपर डिवाइस में इनसर्ट कर इस्तेमाल में ला सके.

गूगल के अनुसार यह चिप सस्ती दर में उपलब्ध होने के साथ-साथ इसका साइज भी स्माल होगा. यह एक वाई-फाई या ब्लुटूथ टेक्नोलॉजी की तरह काम करेगा.

उदाहरण के तौर पर गूगल ने कहा कि गूगल असिसटेंट कनेक्ट का इस्तेमाल एअर कंडिशनर में कर आप उसके साथ बात कर सकते हैं. और एक घंटा बाद स्वत: ऑन/ऑफ़ हो जाने की कमांड भी दें सकते हैं.

यह चिप आपके आसपास मौजूद गूगल असिसटेंट तथा गूगल होम डिवाइस के साथ संचार करेगी और आप जितने चाहे उतने डिवाइस कंट्रोल कर पाएंगे.

Google Assistant vs Amazon Alexa

इन दिनों गूगल असिसटेंट अमेजन, अलेक्सा मार्केट में है. एक-दूसरे के कड़े प्रतिद्वंद्वी बन चुके हैं. क्योंकि, यह फोनों ही एक जैसी सुविधा ऑफर करते हैं. और दोनों की फंक्शनेलिटी लगभग एक जैसी है.

लकिन, एक तरफ देखा जाए तो गूगल असिसटेंट को तो गूगल के पास एंड्रॉइड डिवाइस होने का बहुत बड़ा फायदा मिल जाता हैं.

क्योंकि, एंड्रॉइड गूगल का ही प्रोडक्ट है. इसलिए, वह जानता है कि आप कौन है? आपकी मनपसंद चीजें क्या हैं? और आप क्या सर्च करना पसंद करते हैं?

दूसरी तरफ, यदि आप इसकी तुलना करें एलेक्सा से तो अमेजन अलेक्सा के प्रोडक्ट, सर्विस के आधार यह जानती हैं कि आपका किन-किन प्रोडक्ट्स में इंटेरेस्ट है.

एलेक्सा भली-भांति जानती है कि किस टाइम पर कौन सी लाइट ऑन/ऑफ करनी है. वहीं, दूसरी तरफ गूगल असिसटेंट डायरेक्ट सभी गैजेट्स को ऑन करता है.

तुलनात्मक रूप में कहा जाए तो गुगल को हमेशा से ही एंड्रॉइड डिवाइस होने का एक बड़ा फायदा मिलता है. गुगल के पास विभिन्न कंपनियों के डिवाइसों का सपोर्ट है. जबकि, इस मामले में एलेक्सा का सपोर्ट सीमित है.

जानकारी के मामले में भी गूगल असिसटेंट एलेक्सा से एक कदम आगे है. जो यूजर्स द्वारा किए गए सर्च के आधार पर उन्हे बेहतरीन परिणाम देने की कोशिश करता है.

लेकिन, दूसरी तरफ एलेक्सा घर के अनेक काम जैसे म्युजिक प्लैयर ऑन/ऑफ करना तथा कम्पेटीबल डिवाइसेस के साथ गतिविधियों को सुविधाजनक बनाता हैं.

अगर, इनमे से किसी एक डिवाइस को चुनना हो तो हम गूगल असिसटेंट के साथ जाना पसंद करेंगे.

आपने क्या सीखा?

इस लेख में हमने आपको बताया कि गूगल असिसटेंट क्या होता है. इसकी सहायता से आप अपने एंड्रॉइड स्मार्टफोन को कैसे कंट्रोल कर सकते हैं. साथ में ज्यादा इस्तेमाल होने वाली कुछ गूगल असिसटेंट कमांड्स के बारे में भी आपने जाना.

इसके अलावा गूगल असिसटेंट किन डिवाइसों को सपोर्ट करता है, गुगल असिसटेंट कनेक्ट से भी परिचित हुए है.

और गूगल असिसटेंट के जैसा एक और लोकप्रिय वॉइस असिसटेंट अमेजन एलेक्सा और गूगल असिसटेंट की तुलना भी जानी है.

हमे उम्मीद है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा और आपको पसंद आएगा. इस लेख को आप अपने दोस्तों, रिश्तेदारों के साथ सोशल मीडिया पर जरूर शेयर करें. ताकि वे भी गूगल असिसटेंट के बारे में पूरी जानकारी कर लें.

#BeDigital

लेख आपको पसंद आया?
👍👎

By TP Staff

लेखक: TP Staff

TP Staff, TutorialPandit की कम्प्यूटर और टेक्नोलॉजी पेशेवरों की टीम है, जिसका नेतृत्व जी पी गौतम द्वारा किया जाता है. TutorialPandit के माध्यम से भारत देश में हर साल लाखों लोग फ्री डिजिटल शिक्षा ग्रहण कर रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *