What is Software – सॉफ्टवेयर क्या है?

Computer Software क्या होता है?



आप इस Lesson को एक Software पर ही पढ़ रहे है. जी हाँ, एक Software पर आपने सही पढा. दरअसल, Computer अपना कार्य अकेला नही कर सकता है. Computer को अपना कार्य करने के लिए कुछ सहायक उपकरणों तथा प्रोंग्राम्स की जरूरत होती है. ये उपकरण तथा प्रोंग्राम्स ही Computer को कार्य करने लायक बनाते है. इस Lesson में हम बात कर रहे Software के बारे में तो आइए जानते है Software क्या है?

what-is-hardware

सरल शब्दों में कहे तो प्रोग्राम्स का दूसरा नाम ही Software है. और अधिक कहे तो, Software, प्रोग्राम्स का वह समूह है जो Computer तथा सहायक उपकरणों को operate करता है. Software उपयोक्ता (user) को Computer पर कार्य करने कि क्षमता प्रदान करते है. Software के बिना Computer अनुपयोगी होगा. जैसे, यदि आपके Computer में Browsers नही होता तो आप इस पाठ को नही पढ़ सकते थे. इसके अलावा MS Office, Photoshop, Adobe Reader, Picasa सभी Software है, जो आपको Computer पर अलग-अलग कार्य करने के योग्य बनाते है.

इसे भी पढेंHardware क्या होता है?

Software के प्रकार




Software को अध्ययन की सुविधा के लिए कई प्रकार बनाए गए है. मुख्यत: Software के दो प्रकार है.
1. System Software 2. Application Software

1. System Software

System Software वह Software है जो Hardware का प्रबंध एवं नियत्रंण करता है और Hardware एवं Software के बीच क्रिया करने देता है. System Software के कई प्रकार है.

Operating System

Operating System एक ऐसा कम्प्युटर प्रोग्राम होता है जो अन्य कम्प्युटर प्रोग्रामों का संचालन करता है. Operating System उपयोक्ता तथा कम्प्युटर के बीच मध्यस्थ का कार्य करता है. यह हमारे निर्देशो को कम्प्युटर को समझाता है. और जाने

Utilities

Utilities को सर्विस प्रोग्राम के नाम से भी जाना जाता है. यह कम्प्युटर संसाधनों के प्रबंधन तथा सुरक्षा का कार्य करते है. लेकिन, इनका Hardware से सीधा संम्पर्क नही होता है. जैसे, Disk Defragmenter, Anti Virus प्रोग्राम आदि Utility प्रोग्राम है.

Device Drivers

Driver एक विशेष प्रोग्राम होता है जो इनपुट और आउटपुट उपकरणों को कम्प्युटर से जोड़ता है ताकि ये कम्प्युटर से संचार कर सके.

2. Application Software

Application Software को End User सॉफ़्टवेयर कहा जा सकता है, क्योंकि इसका सीधा संबंध उपयोक्ता से होता है. इसे ‘Apps’ भी कहते है. Application Software उपयोक्ता को किसी विशेष कार्य को करने कि आजादी देते है. इनके कई प्रकार है.

Basic Application

Basic Application सामान्य इस्तेमाल के सॉफ़्टवेयर होते है. इनका उपयोग हम रोजमर्रा के कार्यों के लिए करते है. जैसे, Browsers , MS Word आदि सामान्य इस्तेमाल के सॉफ़्टवेयर है. किसी भी क्म्प्युटर उपयोक्ता को क्म्प्युटर पर कार्य करने के लिए Basic Application का इस्तेमाल तो आना ही चाहिए.

Specialized Application

Specialized Application को किसी खास उद्देश्य के लिए बनाया जाता है. इनका इस्तेमाल भी किसी कार्य विशेष को करने के लिए होता है. जैसे, ग्राफिक्स, ऑडियो, विडियो प्रोग्राम आदि विशेष उद्देश्य के लिए बनाए गए प्रोग्राम है.

इस Lesson में आपने जाना कि Software क्या होता है. Software को हम Hardware के बिल्कुल विपरीत पाते है. आपने जाना कि Software के कितने प्रकार होते है. हमे उम्मीद है कि यह Lesson आपके लिए उपयोगी साबित होगा.



चलो इस Tutorial/Lesson के बारे में बात करें.